Illegal Law

केजरीवाल सत्ता का भूखा, भर्ष्टाचार के नाम पर लोगो को धोखा, दिल्ली में सर्कार बनने से पहले मालूम था की जन लोकपाल नहीं बन सकता फिर भी लोगों के साथ धोखा, योगेन्द्र यादव, संजय सिंह, मनीष, केजरीवाल, खुद के पार्टी में भी डिक्टेटर है, किस्सी की नहीं सुनता, दिल्ली में हंग पार्लियामेंट बनाना चाहते हैं, खिचड़ी सर्कार बनाना चाहते हैं. एंटी करप्शन वोट को तितर बितर करना और वोटर्स में अराजकता फ़ैलाने का इरादा. इस्तीफा देने का कारन सिर्फ हंग पार्लियामेंट बनाना था. कनोट प्लेस ऑफिस (हेड ऑफिस) में कश्मीर के आतंकवादी, प्रशांत भूषन के जन्गपूरा के ऑफिस में नक्सली भी आते हैं. जिन नक्सली को छत्तीसगढ़ में पुलिस ढूंढ रही है, कश्मीर में पुलिस ढूंढ रही है वो भी दफ्तर में आते हैं. ओरिसा और असाम के नक्सली भी आते हैं, व्यवस्था परिवर्तन का कोई मुद्दा नहीं है. हंग पार्लियामेंट बनाने और मीडिया में बने रहने का मकसद. सिर्फ ४ लोगों की पार्टी में चलती है बाकी किस्सी की नहीं सुनी जाती. प्रशांत की कोई औकात नहीं. मनीष योगेन्द्र, संजय केजरीवाल, गोपाल ही सिर्फ डिसिशन मेकर. सिर्फ खिचड़ी सर्कार बनाने का इरादा. योगेन्द्र यादव भी सत्ता का भूखा. एंटी करप्शन वाला वोट काटने का इरादा. सेकुलरिज्म के नाम पर वोट लेना मकसद. फुल टाइम कार्यकर्ता दिल्ली में जिन्हें २५००० रु. महीने दिए जाते हैं. यही कार्यकर्ता जगह जगह जा कर प्रचार भी करते हैं. नगद में भुगतान किया जाता है. लगभग २ करोर रुपये दिए जाते हैं, सीताराम जिंदल भी पैसे दे रहे हैं, नविन जिंदल नगद में पैसे देते हैं. रोबर्ट वाड्रा का खुलासा महज एक दिखावा था, योगेन्द्र का रिश्ता गाँधी परिवार से रिश्ता. राहुल गाँधी का गुरु योगेन्द्र. कांग्रेस और AAP का आपस में साथ गाँठ. पार्टी का नियम एक परिवार के दो लोग कमिटी में नहीं हो सकते लेकिन फोर्ड फाउंडेशन का पूरा परिवार कमिटी में. जिसने वाड्रा को क्लीन चिट दिया वो लैंड एक्वीजीशन कमेटी में, वो बताएगा जमीन अधिग्रहण करने के उपाय. योगेन्द्र जिसने सहारनपुर के किसानो का ३०० करोर मुवाजा खाया वो एग्रीकल्चर रिफार्म बनाने के लिए नियुक्त. संस्था बनने से पहले पैसे मिल रहे हैं. वोट के लिए कुछ भी बोलने के लिए तैयार. बटला हाउस में दोहरा चरित्र, सिर्फ वोट के लिए. वोट के लिए हिन्दू और मुस्लमान दोनों बनने को तैयार. जिसने आतंकवादियों को निर्दोष बताया उससे पार्टी से टिकट दिया गया. पार्टी बनने से पहले से योजना. विधान सभा के दौरान अरब देशों से पैसा आता है. फोर्ड फाउंडेशन के द्वारा NRI के जरिये पैसा आता है. अरब देशों में जर्मनी और अमेरिका में आना जाना लगा रहता है. ख़ुफ़िया दस्तावेज दिखा कर सोनिया गाँधी को ब्लैक मेल किया, संतोष कोहली के नाम पर वोट मांगी, फोटो लगा कर वोट मांगी. केजरीवाल के करीबी भी गाली देते हैं. अन्ना, बाबा रामदेव को धोखा दिया. डिक्टेटर प्रवृत्ति का है. अमन होटल DLF का नहीं है, वाड्रा का है, उस होटल में बैठक हुई कांग्रेस के साथ. कुमार विश्वास के साथ भी धोखा. http://www.youtube.com/watch…