Indian Comics Fans Junction

A Group of passionate comics fans, dedicated to Indian Comics.
यहाँ पर हम सभी कॉमिक्स की वजह से हैं तो इस बात में कोई संदेह नहीं है कि चर्चा भी कॉमिक्स पर ही होगी. लेकिन लेकिन चर्चा करते वक्त कुछ बातों का ध्यान हमें रखना होगा! वे कुछ बातें इस प्रकार हैं!

1. ग्रुप में मुख्यतः केवल कॉमिक्स और आर्ट से सम्बंधित पोस्ट होंगी! इसके अलावा जो कुछ भी आप को पोस्ट करना है उसे पोस्ट करने से पहले आप 'Off Topic' लिखें!
2. ग्रुप में पोस्ट की जाने वाली सामग्री का ध्यान रखें. कोई भी ऐसी इमेज या कमेन्ट ऐसे न पोस्ट करें जिससे कि अन्य मेम्बेर्स को आपत्ति हो या उस सामग्री से मेम्बेर्स अपने आप को असहज महसूस करें.! ज़रूरी नहीं कि आप को किसी चीज़ से आपत्ति नहीं है तो अन्य मेम्बेर्स को भी नहीं होगी. मेम्बेर्स की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए पोस्ट करें. ध्यान रहे ग्रुप में मेल मेम्बेर्स के साथ ही फीमेल मेम्बेर्स भी हैं तो इस बात का भी विशेष ध्यान रखें!
3. किसी भी डिस्कशन में हिस्सा लेते हुए अपनी भाषा और चुने हुए शब्दों को काबू में रखें. ऐसे शब्दों का प्रयोग न करें जिससे कि किसी की भावनाएं आहत हों. यदि किसी भी मेम्बर को अभद्र भाषा और अपशब्दों का प्रयोग करते हुए पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से 'बेन' (Ban) कर दिया जाएगा बिना सूचित किए. कोशिश करें कि ऐसे शब्दों का प्रयोग करने कि नौबत न आये.
4. किसी भी बात पर चर्चा करते हुए दो पक्षों के बीच विचारों में मदभेद हो सकते हैं. लेकिन उन विचारों के मदभेदों को विचारों तक ही सीमित रहने दें उन्हें आपसी मदभेद में न बदलने दें. कोशिश करें कि कोई भी मुद्दा शान्ति से हल हो जाए!
5. ग्रुप में आम मेम्बेर्स यानी कि फेंस के अलावा यहाँ पर कॉमिक्स की दुनिया से जुड़े हुए कई जाने माने नाम और क्रिएटिव्स भी जुड़े हैं, उनके काम के बारे में चर्चा करते वक्त positive और Constructive चर्चा करें. Negative या केवल Critisize करने के उद्देश्य से की हुई चर्चा से किसी को कोई लाभ नहीं है सिवाए मेम्बर द्वारा अपनी व्यक्तिगत भड़ास निकालने के. Critisize करना तभी लाभदायक है जब आप के किए हुए कमेंट्स या सुझाव सम्बंधित क्रीएटिव को अपने कार्य को और भी अच्छा करने के उद्देश्य से कहे गए हैं. तो इस संबद्ध में चर्चा करते वक्त अपनी मर्यादाएं और सीमाओं का उल्लघन न करें.
6.पाइरेटेड लिंक्स या कॉमिक्स के स्केन पेजेस ग्रुप में लगाना मना है. ऐसा करते हुए पाए जाने वाले को एक चेतावनी दे कर छोड़ दिया जायेगा यदि वह मेम्बर पुनः ऐसा करते हुए पाया जाता है तो उसे तत्काल प्रभाव से बेन कर दिया जायेगा.